Blog

गर्भावस्था में उल्टी होने पर आजमायें ये तरीके

By: | Tags: | Comments: 0 | June 20th, 2019

गर्भावस्था के शुरुआती लक्षणों में से एक है जी मचलाना, पहली बार उल्टी आने पर जितनी खुशी आपको हुई होगी उतनी ही तकलीफ देने लगतीं हैं बाद में बार बार आने वाली ये उल्टियाँ। मॉर्निंग सिकनेस की समस्या से हर प्रेग्नेंट महिला को जूझना पड़ता है वैसे तो ये एक सामान्य लक्षण है पर मतली या उल्टियाँ बहुत अधिक हों तो आपको वीकनेस आ सकती है और आपके अंदर विकसित हो रहे आपके बच्चे पर भी बुरा असर डाल सकतीं हैं इसलिए अगर सामान्य से अधिक उल्टियाँ हों तो अपने डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें। बाकी हम आपको यहाँ बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे घरेलू टिप्स जिनसे आपके जी मचलाने और बार बार उल्टी आने की समस्या काफी हद तक चुटकियों में दूर हो जाएगी।

  • दूध वाली चाय या कॉफी पीना छोड़ दें, उसकी जगह पर सुबह सुबह ग्रीन टी में थोड़ी सी अदरक डाल के पियें, इससे मॉर्निंग सिकनेस में काफी आराम मिलता है। रोज सुबह अगर आप ये करेंगीं तो आपकी उल्टियों की समस्या दूर हो जाएगी। इसके साथ ही आप तुलसी के कुछ पत्तियों को समय समय पर चबाएं इससे भी बहुत लाभ होगा।
  • एक और घरेलू नुख्सा ये है कि थोड़े से सेब के सिरके को जरा से शहद के साथ मिला कर सुबह सुबह चाट लिया करें या जब जी मचले तब ऐसा करें आप देखेंगी एक दो दिन में ही आपकी मॉर्निंग सिकनेस की ये प्रॉब्लम सॉल्व हो जाएगी।
  • नींबू एक ऐसा गुणकारी फल है जो कि मानव शरीर को तो ताज़गी से भर ही देता है साथ ही हमारे मन मस्तिष्क को भी तरोताज़ा कर देता है। नींबू का रस मॉर्निंग सिकनेस की रामबाण औषधि है। नींबू के रस को एक कप पानी में थोड़े से पुदीने के रस के साथ लिया जाए तो यह बहुत अच्छा काम करता है।
  • आपको पानी ज्यादा पीने की आदत डालनी होगी, कई बार पानी की कमी से भी जी अधिक मचलता है और उल्टियाँ होने से वैसे भी शरीर में पानी की कमी हो जाती है इसलिये अपना वाटर इनटेक बनाये रखें।
  • फलों और सब्जियों के जूस को थोड़ा थोड़ा दिन भर में लेतीं रहें पर ध्यान रहे ज्यादा नमक न लें इससे ब्लड प्रेशर बढ़ने का खतरा उत्पन्न हो जाता है अतः जूस हो या नींबू पानी इसमें नमक न के बराबर प्रयोग करें।
  • मॉर्निंग सिकनेस की एक बहुत बड़ी वजह है गरिष्ठ भोजन यानी बहुत ज्यादा तला भुना चटपटा और मसालेदार खाना खाना, इससे पेट में अपच होने से सुबह सुबह जी बहुत मचलता है अतः इस प्रकार के भोजन से परहेज करें।
  • डॉक्टर द्वारा बताए गए पौष्टिक आहार से आप अपनी मॉर्निंग सिकनेस की समस्या को दूर कर सकतीं हैं अपने पेट को बहुत देर तक खाली न छोड़े और न ही एक बार में बहुत ज्यादा खाना खाएं। स्वस्थ आहार वाली चीजें थोड़े थोड़े अंतराल पर थोड़ी थोड़ी मात्रा में लें जिससे शरीर उसे अच्छे से पचा सके और आपको कब्ज न हो। कब्ज होने से मॉर्निंग सिकनेस अधिक होती है।
  • डॉक्टर की सलाह पे प्रोटीन से भरपूर आहार का सेवन करें रिसर्च बतातीं हैं कि जो महिलाएं प्रेग्नेंसी में अधिक प्रोटीन वाला भोजन लेती हैं उन्हें मॉर्निंग सिकनेस कम होती है।
  • विटामिन बी भी मॉर्निंग सिकनेस को दूर करता है डॉक्टर की सलाह पे उचित मात्रा में कैल्शियम और विटामिन बी लेने से आप खुद को मॉर्निंग सिकनेस और उल्टियों से बचा सकतीं हैं।
  • किसी भी प्रकार का नशा जैसे शराब सिगरेट न खुद करें और न ही ऐसे वातावरण में आप रहें। किसी भी प्रकार की मौसम की अधिकता जैसे बहुत गर्मी बहुत सर्दी इत्यादि वाले मौसम में खुद को नार्मल टेम्परेचर पर रखें।

आशा है कि बताई गईं ये टिप्स आपके जरूर काम आयेंगी अगर कोई भी उपाय काम न करे तो घबराएं नहीं अपने डॉक्टर से मिलें वो आपको सही सलाह व उपाय बताएंगे क्योंकि हर प्रेग्नेंसी अलग होती है इसलिए जरूरी नहीं हर उपाय आपके काम ही आये ऐसे समय में पैनिक न करें बस अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

 

Leave a Reply