Blog

प्रेगनेंसी के अंतिम दिनों में करें ये 5 चीजें, होगी नॉर्मल डिलीवरी

By: | Tags: | Comments: 0 | June 20th, 2019

अगर हम खुद से एक या बहुत हद तक दो पीढ़ी पीछे जाएं तो पाएंगीं कि पहले कभी कभी सुनाई देता था कि किसी की सिजेरियन डिलीवरी हुई पहले लगभग सभी की नॉर्मल डिलीवरी ही हुआ करती थी पर आज के ज़माने में इससे ठीक उल्टा हो चुका हुआ है अब वो समय आ गया है जब नॉर्मल डिलीवरी किसी किसी की सुनाई देती है। आज महिलाओं की नॉर्मल डिलीवरी एक बहुत बड़ी चुनौती हो गई है।

यद्यपि सिजेरियन से कहीं ज्यादा नॉर्मल डिलीवरी ही बेहतर होती है क्योंकि ऑपरेशन के बाद महिला को शिशु के साथ साथ अपनी भी ज्यादा देखभाल की जरूरत पड़ती है पर आपकी स्थिति और तमाम रिपोर्ट्स के आधार पर आपके डॉक्टर द्वारा लिया गया निर्णय ही सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। हम आपको यहाँ कुछ ऐसी टिप्स बताएंगे जिससे आपकी सारी रिपोर्ट्स नॉर्मल हों और आपकी नॉर्मल डिलीवरी होने की संभावना अधिक हो जाए।

  • पूरी प्रेग्नेंसी के दौरान आपके सामने चुनौती रहती है स्वयं को और गर्भ में पल रहे बच्चे को स्वस्थ रखने की, और इस सुखद तपस्या का फल मिलने के जब कुछ ही दिन बचे हों तो मन में अधीरता बढ़नी स्वाभाविक है आपको अपना धैर्य बनाये रखना होगा और स्वयं को मानसिक रूप से मजबूत करना होगा कि सबकुछ अच्छा होगा और डिलीवरी नॉर्मल ही होगी। यदि आपने पूरी प्रेग्नेंसी के दौरान अपना खानपान अच्छा रखा है और नियमित व्यायाम किया है तो आप प्रसव पीड़ा को बर्दाश्त करने में सक्षम होंगीं अंतिम दिनों में शरीर और मन दोनों को आपको स्वस्थ रखना होगा। ध्यान रहे कि आप एनीमिक न हों, खून की कमी और कमजोर हेल्थ से नॉर्मल डिलीवरी में दिक्कत आ सकती है अतः अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें।
  • प्रेग्नेंसी के अंतिम दिनों में अपने आहार का बहुत ही अधिक ध्यान रखना चाहिए सिर्फ डॉक्टर की सलाह से ही भोजन ग्रहण करें और कुछ भी ऐसा न खाएं जिससे आपका पेट खराब होता हो या किसी तरह की एलर्जी आपको होती हो। नॉर्मल डिलीवरी में लगभग चार सौ एम एल तक खून आपके शरीर से जाता है अतः प्रेग्नेंसी के अंतिम दिनों में आयरन और कैल्शियम युक्त डायट अवश्य लें।
  • पानी खूब पियें, गर्भाशय में आपका बच्चा एक लिक्विड से भरी झोली जिसे एमनियोटिक फ्लूइड कहते हैं में रहता है यदि आप प्रतिदिन दस से बारह ग्लास पानी पीतीं हैं तो इस झोली में पल रहे आपके बच्चे को इस जल से ऊर्जा मिलती है इसलिए प्रेग्नेंसी के अंतिम दिनों में अपने शरीर में पानी की कमी न हों दें।
  • आराम के साथ साथ थोड़ा एक्टिव भी रहें, अगर आप नॉर्मल डिलीवरी चाहतीं हैं तो ये आवश्यक है कि आप हमेशा आराम ही न करतीं रहें बल्कि खुद को थोड़ा एक्टिव भी रखें अपने रोजमर्रा के काम जारी रखें और थोड़ा थोड़ा पैदल सैर भी करें। योग और व्यायाम यदि प्रेगनेंसी के दौरान आपकी दिनचर्या में शामिल रहे हैं तो आपकी नॉर्मल डिलीवरी की संभावनाएं बहुत बढ़ जाती हैं। गर्भावस्था की अंतिम तिमाही में आप किसी एक्सपर्ट द्वारा वे एक्सरसाइज भी सीख सकतीं हैं जो आपकी मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करें।
  • अपने घर की अनुभवी महिलाओं जैसे अपनी माँ, सास या कोई भाभी चाची इत्यादि से उनके अनुभव सुने और प्राप्त जानकारी को अपने डॉक्टर से पक्का करें। इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा। मधुर संगीत सुनें और गहरी नींद लिया करें। बस अपने मन को बली रखें और हमेशा पॉजिटिव सोचें कि आपकी नॉर्मल डिलीवरी ही होगी।

Leave a Reply